Par nahi, meri parwaaz dekhiye

parwaz

Par nahi , meri parwaaz dekhiye   Par nahi , meri parwaaz dekhiye Kuchh naya kahney ka, andaaz dekhiye Wakif hoon barabar ,qatil sey apney main, Aur usi sey chhupaya hai, raaz dekhiye   ” पर नहीं, मेरी परवाज देखिये कुछ नया कहने का , अंदाज़ देखिये. वाकिफ हँ बराबर , कातिल से अपने उसी … Read more

Tumhara naam sunkar

Tumhara naam sunkar     ” तुम्हारा नाम सुनकर , आज भी दिल काँप उठता है , तुम्हे तो याद भी होगा नहीं कि , हम तुम्हारे थे “   “Tumhara naam sunkar,aaj bhi dil kaanp uthta hai, Tumhey to yaad bhi hoga nahi, ki hum tumharey thhey.”

Shayari Bashir Badr Sahab Ki

Bashir Badra

Shayari Bashir Badr Sahab Ki Bashir Badr Sahab Ki Shayari mein wo maza aur wo zazba hai jo khoon tak pahoonch jata hai. Gaur farmayen   कुछ तो मजबूरियां रही होंगी, यूं कोई बेवफ़ा नहीं होता। देने वाले ने दिया सब कुछ अजब अंदाज से, सामने दुनिया पड़ी है और उठा सकते नहीं। सर झुकाओगे … Read more

Toh tay raha

   ” तो तय रहा कि , खवाबों में भी अब , तुम न आओगे कभी गर आ भी जाओ तो , आँखें खोल लेंगे हम “     Toh tay raha ki, khawabon mein bhi ab, tum na aaogey Kabhi gar aa bhi jaao toh aankhen khol lengey hum  

Na aaney key hum tak

na aaney key hum tak

“न आने के हम तक, बहाने बहोत हैं मगर ये बहाने ,पुराने बहोत हैं . जो फुर्सत में हो तुम, तभी पास आना , कि, शिकवे – शिकायत ,सुनाने बहोत हैं “   Na aaney key hum tak, Bahaney bahot hain. Magar ye bahaney puraney bahot hain Jo fursat mein ho tum, tabhi paas aana, … Read more

DMCA.com Protection Status